मंगलवार, अप्रैल 03, 2012

गंगा निर्मलता अभियान को रवि किशन का समर्थन


गंगा सिर्फ नदी नहीं वरन संस्कार है - रवि किशन

भोजपुरिया टाइगर रवि किशन ने गंगा की अविरलता निर्मलता के अभियान को अपना समर्थन देते हुए हर संभव मदद देने की बात है . बनारस में उन्होंने इसकी शुरुवात भी कर दी. रवि किशन बनारस में फिल्म मोहल्ला अस्सी की शूटिंग कर रहे थे .अस्सी घाट पर गूंजते गीत 'गंगा रे जरा ठहर यहां, क्यों कन्नी काट के जाती हो.' पर कलाकारों का भाव काशीवासियों को रिझा गया। साथ ही फिल्म यूनिट से जुड़े सभी सदस्यों के सीने पर चस्पा गंगा रक्षा से जुड़े स्टीकरों ने भी दिल से दिल के तार मजबूती से जोड़ दिए। यह भी जता दिया गंगा की किसी एक की नहीं सबकी मां है, उनकी रक्षा को हर किसी को खेवइया बनना होगा। रविकिशन ने कहा कि गंगा सिर्फ नदी नहीं वरन संस्कार है, जो हर भारतवासी में आकार लेती है। उसके बाधित या प्रदूषित होने का असर जनमानस पर भी पड़ेगा। उन्होंने गंगा की अविरलता व निर्मलीकरण से जुड़े हर अभियान में जी जान से जुटने का आह्वान किया। बनारस में मौजूद अभिनेता सन्नी देओल ने भी अपना समर्थन देने की बात कही है . उन्होंने अपनी भावनाएं जाहिर कीं उन्होंने कहा की काशी और गंगा से पुराना नाता है। यहां पहले भी आ चुका हूं, मोहल्ला अस्सी से जुड़ने के पीछे यही लगाव कारण बना। गंगा की रक्षा से जुड़े हर कार्य में सभी को जी जान से जुटना चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि सभी गंगा की स्वच्छता को जतन कर अपनी जिम्मेदारी निभाएं। सन्नी का मानना है कि काशी का अंदाज निराला है, ऐसा कहीं और नहीं देखा जा सकता। यह सब गंगा की ही देन है.